On His Blindness
  English Study Point Logo English Study Pointwww.englishstudy.co.in
  
Click Here To Register YourselfClick Here To Sign In
Welcome To English Study Point!                     Watch My Videos On Youtube
   Lesson-4
On His Blindness

Composed by -John Milton


When I consider how my light is spent

Era half my days, in this dark world and wide,

And that one talent, which is death to hide,

Lodged with me useless, though my soul more bent

To serve therewith my Maker, and present



;My true account, lest, He returning chide;

'Doth God exact day-labour, light denied?'

I fondly ask: but patience, to prevent

That murmur, soon replies, 'God doth not need



Either man's work, or His own gifts, who best

Bear His mild yoke, they serve His best; His state

Is kingly: thousands at His bidding speed,

And post o'er land and ocean without rest;

They also serve who only stand and wait.'



;When I....................................more bent

Explanation in Hindi:-
प्र्स्तुत पद्यांश में कवि सोचता है कि बड़े दुःख की बात है, मेरे आँखों की रौशनी आधी उम्र में ही चली गयीl कवि मिल्टन को 44 वर्ष की आयु में आँखों से दिखाई नहीं पड़ता थाl वो अंधे हो चुके थेl कवि कहता है कि ये दुनिया उसके लिए अब और भी अंधकारमय और लम्बी-चौड़ी हो गयी है, क्योकि कब दिखता ही न हो तो सब अँधेरा ही अँधेरा है, और पास की चीजे भी बहुत दूर हो जाती हैl कवि आगे सोचता है कि भगवान ने उसे कवि की प्रतिभा दी थी, जिसका मैं दिल से प्रयोग करना चाहता हूँ दुनिया के लिए बहुत कुछ लिखना चाहता हूँ, लेकिन अफ़सोस ये प्रतिभा मेरे साथ मेरे साथ यूँही मृत्यु तक बेकार पड़ी रहेगी, क्योकि बिना आँखों के वो अपनी प्रतिभा का उपयोग कैसे करेl बिना आँखों की रोशनी के कैसे लिखेl जबकि कवि की आत्मा बहुत चाहती है की कुछ लिखे, संसार को अच्छी-अच्छी कविताएँ और लेख देl वह दिल से भगवान् द्वारा दी गयी कवि की प्रतिभा का प्रयोग करना चाहता हैl



To serve......................................to prevent

Explanation in Hindi:-
कवि आगे कहता है कि उसकी आत्मा ईश्वर द्वारा प्रदत्त उपहार से वह ईश्वर और संसार की सेवा करना चाहती हैl यहाँ पर कवि अपने दिमाग के दो हिस्से करता है एक हिस्सा मन और दूसरा हिस्सा आत्मा का रोल अदा करता हैl, फिर एक हिस्से से प्रश्न करता है और दूसरे हिस्से से जबाब देता हैl कवि का मन मूर्खतापूर्ण प्रश्न करता है की क्या ईश्वर उससे दी गयी कवि की प्रतिभा का सही-सही हिसाब मागेगा?, क्या उसे ईश्वर के सामने उस प्रतिभा का सही लेखा-जोखा प्रस्तुत करना पड़ेगा?, जिसका उपयोग सिर्फ आँखों की रोशनी रहने पर ही किया जा सकता हैl जबकि ईश्वर ने ही उसकी आँखों की रोशनी ले ली हैl क्या ईश्वर तब भी मुझसे हिसाब मागेगा? लेकिन तभी कवि की आत्मा तुरंत उत्तर देती है कि इस तरह का प्रश्न करना मूर्खतापूर्ण हैl



Taht murmur,.......................................and wait.

Explanation in Hindi:-
जब कवि का मन ईश्वर के बारे में मूर्खतापूर्ण प्रश्न करता है तो कवि की आत्मा तुरंत जबाब देती है कि ईश्वर को किसी व्यक्ति के काम की आवश्यकता नहीं होती है, अथवा वह अपने द्वारा दी गयी प्रतिभा का हिसाब नहीं मांगताl न ही वह किसी मनुष्य से कोई उपहार चाहता हैl ईश्वर मनुष्य की सोच से बहुत परे है और बहुत महहन हैl वह राजाओं की तरह रहता हैl हजारों देवदूत हमेशा इस इंतजार में बेसब्री में खड़े रहते है जी इसबार ईश्वर मुझे अपनी सेवा करने का मौका देl ईश्वर के एक इशारे पर वे अपने आप को कही भी चाहे धरती पर, पाताल में, या फिर आकाश में प्रस्तुत करते है और शौक से अपने आप को सेवा में तल्लीन कर लेते हैl उसे मनुष्य के कार्यो की क्या जरूरत है? कवि की आत्मा कहती की ईश्वर का सच्चा सेवक वही है जो ईश्वर द्वारा दिए गए सुख-दुःख को बिना किसी शिकवा-शिकायत के प्यार से स्वीकार कर लेता है और उसे ईश्वर का इंसाफ मानता हैl ईश्वर किसी के साथ कभी भी कुछ भी गलत नहीं करता हैl कवि कहता है वह जो ईश्वर सेवा में लगा है, या लगा रहता है सिर्फ वही नहीं ईश्वर का सच्चा सेवक है, बल्कि वह भी सच्चा सेवक होता है ईश्वर की सेवा करना चाहता है और सेवा के लिए ईश्वर के इशारे का इंतजार करता हैl



Meaning of Difficult Words-

Word Pronunciation Meaning
Consider कंसीडर गहराई से सोचना
Light लाइट आँखों की रोशनी
Spent स्पेंट समाप्त हो गयी
Ere एअर पहले
Talent टैलेंट प्रतिभा,विशेष गुण
Lodged लोज्ड ठहरे रहना
Bent बेंट उत्सुक, लालायित
Therewith दीअरविद उससे
Maker मेकर निर्माता, ईश्वर
Present प्रेजेंट प्रस्तुत करना
Account अकाउंट लेखा-जोखा
Lest लेस्ट कही ऐसा न हो कि
Chide चाईड डाँटना, फटकारना
Exact एक्जैक्ट मांगना
Day-labour डे-लेबर आँखों की रोशनी से किये जाने वाले काम
Denied डिनाइड इनकार करना
Fondly फोंड्ली मूर्खता पूर्वक
Patience पेशेंस धैर्य, आत्मा
Prevent प्रिवेंट रोकना, टोकना, मना करना
Murmur मर्मर बुदबुदाना, फुसफुसाना, अंतरात्मा की आवाज
Mild माइल्ड हल्का, कोमल
Yoke योक जुआ, जुआठा, दुःख-कष्ट
Kingly किंगली राजसी, शाही
Bidding बिडिंग आज्ञा के
Post पोस्ट तैनात करना
Ocean ओसियन सागर


Watch In Video

 
© Copyrigt, All right reserved © Notice!
Privacy Policy     Term & Conditions
Website designed by Mr. Dinesh Kumar
Email-english9228@live.com