English Study Point LogoEnglish Study Point
www.englishstudy.co.in



       Click Here To Register YourselfClick Here To Sign In
Welcome To English Study Point!              Visit My Facebook Page              Watch Videos On Youtube


  In English  

Lycidas (1638)

महान कवि मिल्टन जी ने Lycidas की रचना अपने प्रिये मित्र Edward King के लिए किया है जो Cambridge Collegeके समय में आपके साथ रहते थेl Edward King की मृत्यु बहुत जल्दी पानी में डूब जाने से हो गयीl एक बार किंग अपने परिवार के साथ समुद्री रास्ते आयरलैंड घूमने जा रहे थे, रास्ते में the coast of Wales के निकट जहाज डूब गयीl किंग उस समय 25 वर्ष के थेl मिल्टन इस घटना से बहुत दुखी और निराश रहते थे फलस्वरूप उन्होंने अपने मित्र के लिए Lycidas की रचना 1638 में कीl

कविता कवि के 'काव्य की देवी' की स्तुति से शुरू होती हैl जिसमे कवि देवी से प्रश्न करता है की जब उसका मित्र मर रहा थे तो वह कहाँ थींl

Lycidas एक Pastoral Elegy है जिसका मतलब है 'चरवाहा गीत'l यह कविता Monody शैली में लिखी गयी है जिसका मतलब होता है 'एक-स्वर गीत'l इसकी रचना Iambic Pentameter में की गयी हैl जिसमे खास कर 6 उच्चारण-खण्ड (Syllable) वाली छोटी-छोटी लाइन को प्रमुखता दी गयी हैl यह एक पद्यांश है जिसमे कुल 193 लाइने हैंl पद्यांश की कोई निश्चित लम्बाई या तुक क्रम (Rhyme Scheme) नहीं हैl पूरी कविता को 6 खण्डों में विभाजित किया गया है-

1-      प्रस्तावना (Prologue)

2-      4 मुख्य भाग (Main Parts)

3-      उपसंहार (Epilogue)

इस कविता में मिल्टन परोक्ष रूप से अपने मित्र का वर्णन करते है जिसको इस कविता में एक चरवाहा के रूप में प्रस्तुत किया गया हैl जिसकी असमय मृत्यु हो जाती है और उसका साथी चरवाह अपने साथी की मृत्यु पर विलाप करता है, यहाँ पर मिल्टन ने विलाप करने वाले चरवाहे के रूप में अपने आप को रखा हैl

आगे कवि अपने दोस्त के मृत्यु, स्वर्ग में प्रवेश और वह पर सत-आत्माओं के साथ आनन्दपूर्ण समय बिताने का जिक्र हैl Lycidas को 'Theocritus Idylls' से लिया गया हैl ऐसा माना जाता है की वहाँ Lycidas नाम का एक कवि गड़रिया रहता थाl






  In English