John Milton
  English Study Point Logo


English Study Point
www.englishstudy.co.in






   
Click Here To Register YourselfClick Here To Sign In   
Welcome To English Study Point!              View My Photos On Facebook              Watch My Videos On Youtube
   
Home    Back    

महान कवि Milton के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां:-

Written by Dinesh Kumar

Note:हमारा मकसद शिक्षा को सुलभ और सरल बनाना है हमने बड़ी मेहनत से नोट तैयार किये है, हमारे द्वारा लिखने में सावधानी बरती गयी है फिर भी त्रुटी संभव है l आपसे अनुरोध है कि आप नोट के सत्यता कि पुष्टि कही और से कर लेंl

John Milton जी बहुत महान कवि थे ये बात हम सभी जानते हैं l आपका जन्म 9 दिसम्बर सन 1608 में, ब्रेड स्ट्रीट लन्दन में हुआ थाl

आपके माता का नाम Sarah Jeffrey था, जो बहुत सभ्य, शालीन और सामाजिक रूप से प्रतिष्ठित महिला थींl आपके पिता जा नाम भी John Milton ही थाl इनको हम सीनियर मिल्टन कहते हैl वे लन्दन के समृद्ध मुंशी(scrivener) थेl ऐसा कहा जाता है कि जब ये Oxford में विद्यार्थी थे तो ये Puritan सम्प्रदाय में शामिल हो गए और अपने पिता RichardMilton के द्वारा उत्तराधिकारी होने के अधिकार से वंचित कर दिया गयाl वे विद्वान, व्यापारी, धर्म और राजनीति में असली puritan होते हुए महान संगीतज्ञ भी थेl इनके पिता जी Sarah Jeffrey से शादी करने के बाद आर्थिक क्षेत्र में बहुत सफल हुए l

John Milton को कोचिंग भी दी जाती थीl आपके कोच का नाम Thomas Young थाl जो st. Andrews कॉलेज से M.A. थेl

आप शारीरिक रूप से मध्यम कद के व्यक्ति थे, आपके बाल लाल भूरे रंग के थे इनका चेहरा अंडाकार था, आँखे स्लेटी कलर की थीं और वर्ण बहुत सुन्दर थाl इसलिए आपको lady of Christ College कहा जाता थाlऐसा कहा जाता कि मिल्टन बहुत मेहनत से पढ़ते थे, रात में 12 से 1 बजे के बाद ही सोते थेl

अपनी स्कूल की पढाई पूरी करने के बाद 1625 में Christ College,Combridge में आपने B.A. में प्रवेश लिएl आप ने अपना B.A. 1629 में पूरा किया और 24 सम्मानित स्नातको में चौथा स्थान हासिल कियेl आपने अपना M.A. 1632 में पूरा किया और इसी वर्ष आपको कॉलेज से अपने कोच से झगडा करने के कारण निष्काषित कर दिया गया l

Cambridge में मिल्टन की Adward King से अच्छी बनती थी l जिसके लिए आपने Lycidas की रचना की जोकि एक Postoral elegy है l 1634 में आपने The Masque of Comus की रचना की जिसको Ludlow Castle में The Earl of Bridgewater और उनके दोस्तों के समक्ष प्रस्तुत होना थाl इसको The Triumph of Virtue के नाम से भी जाना जाता है l Comus सदाचार की शुचिता और शुद्धता पर बल देता है l

आप ने Cambridge के समय में ही 'L Allegro' और 'II Penseroso' की रचना कीl 'L Allegro' का मतलब होता है 'खुशहाल व्यक्ति' जबकि 'II Penseroso' का मतलब होता है ' उदास व्यक्ति'l इन दो जुड़वाँ रचनाओं में आपने मानव जाति के दो आवेगों के बीच तुलना और बिभाजन के वर्णन किया हैl

1632 के बाद आप Hammersmith में अपने पैत्रिक घर पर रहने लगेl आप Horton, Berkshireमें भी रहे और 6 वर्ष तक खुद से ही मेहनत से अध्ययन कियेl आपने theology, philosophy, history, politics, literature, and scienceमेंगहन अध्ययन कियेl इसीलिए आपक नाम ब्रिटेन के विद्वान कवियों में शुमार है l आप अपने अध्ययन के दौरान भी रचनाएँ करते थे l

आपने Lycidas की रचना सन 1637 ई. में किया थाl जो की एक सुरीला गीत है और आपके कॉलेज के दोस्त Edward King को समर्पित हैl ये आपकी अंतिम Horton Poem हैl आपकी पेरिस में मित्रता Grotius से हुई जोकि देश से निष्कासित थे और डच विद्वान थेl और जब आप Florence में थे तब आपकी मित्रता Galileo से हुई l आपकी ये दोनों मित्रताएं काफी उपयोगी साबित हुई l

आपने 1639-1642 के बीच में चार Drafts की रचनाएँ की जिसको Adam Unparadized भी कहते हैl

आपने प्राइवेट स्कूल मास्टर का जॉब चुना और अपने भांजों को शिक्षित कियेl

1642 में आप मैनर हाउस घुमने गए और वहां से 16 साल की दुल्हन मैरी पॉवेल के साथ लौटेl

आपकी तीन शादियाँ हुई थीजिसमे से पहली शादी 1643 में Mary Powell के साथ हुआl जोकि Richard Powel की पुत्री थी, जोकि एक रिहायसी घुड़सवार थे l Mary Powell बहुत ही सुंदर कन्या थी, लेकिन अफ़सोस ये शादी असफल साबित हुई l मैरी 35 के स्कूल मास्टर के साथ सामंजस्य नही बिठा पायीl एक महीने बाद वह अपे मायके लौट गयी और 1645 में वापस आयीl मैरी ने तीन बच्चियों को जन्म दिया थाl जिनका नाम क्रमशः Anne(1646), Mary(1648) और Deborah(2 May,1652) थाl मैरी ने एक पुत्र को भी जन्म दिया था जिसका नाम John(16मार्च1651)था, शैशवावस्था में ही जून 1652में जॉन का देहांत हो गयाl

आप 1650 में एक आँख से अंधे हो चुके थेl डॉक्टर्स के मना करने के बावजूद आप आराम नही किये और लेखन में लगातार कठिन मेहनत करते रहेl जब मिल्टन 1652 में अंधे हो गए थे उसके एक साल बाद मैरी पॉवेल की मृत्यु 1653में डिलीवरी की कम्पलीकेशन के कारण हुई l ये तीनो बेटियां बड़ी तो हुई लेकिन सुना जाता है कि आप उनके साथ रिश्ता बेमन से रखते थेl

1644 में आपने Areopagetica की रचना की जोकि Parliament for freedom of the press के नाम एक संबोधन हैl

जब आप The Defence of the English People को लिख रहे थे पूर्णतयः अंधे हो गए (1654)l कहा जाता है कि आपकी आँखे रेटिना खी खराबी या फिर मोतियाबिंद की वजह से हुई l

1649 में आप कामनवेल्थ के विदेश सेक्रेटरी बनेl

दूसरी शादी मैरी की मृत्यु के 4 वर्ष बाद 1656 मेंKatharine Woodcock के साथ हुआl लेकिन दुर्भाग्यवश जच्चा और बच्चा दोनों की मृत्यु बहुत शीघ्र 1658 में हो गयीl

आपकी तीसरी शादी Elizabeth Minshull के साथ 1663 में हुआ जोकि 24 साल की थीll कहा जाता है कि एलिज़ाबेथ आपसे 30 साल छोटी थीl ये आपकी सबसे चहेती पत्नी थी lआपने अपनी जायदाद एक वसीयत के द्वारा अपनी तीसरी पत्नी एलिज़ाबेथ के नाम कर दिया था, लेकिन पहली पत्नी की तीनों बेटियों ने वसीयत को लेकर विवाद खड़ा कर दिया थाl

आपने अपने बहन Anne के बेटे Edward और John Phillips को शिक्षित किया, बड़े होकर ये भी लेखक बनेl आप 7 साल बिना आँखों के बिताने के बाद पुनः 1665 में Paradise Lost लिखना शुरू किये और 1658 में पूरा किये जोकि 1667 में प्रकाशित हुआ l पैराडाइस लॉस्ट मूलतः 10 किताबों में विभाजित था l लेकिन बाद में इसको 12 किताबों में विभाजित कर दिया गया l Parasise Lost का कॉपी राईट Samuel Simmons लो 5 पाउंड्स में बेंच दियेl इसका तीसरा संस्करण कवि की मृत्यु के पश्चात् 1678 में प्रकाशित हुआ l इसके कॉपीराइट को भी Samuel Simmons को 8 पाउंड्स में बेंच दिया गयाl इसतरह से आपको इतने महान रचना के लिए मात्र 28 पाउंड्स प्राप्त हुए l

आपकी अंतिम महत्वपूर्ण रचना जोकि Samson Agonistes थी 1671 में प्रकाशित हुईl यह एक ड्रामेटिक पोएम थी l

आपकी मृत्यु 8 नवम्बर 1674 को गुर्दा ख़राब होने की वजह से हुईl आपको St. Giles Cripplegate, Fore Street लन्दन में दफनाया गयाl

 

 

 

 

 

 

      

 




Home    Back    


 
 Copyright 2016, All right reserved  Notice!
Privacy Policy     Term & Conditions
Website designed by englishstudy.co.in
Email-english9228@gmail.com